fbpx

सोशल मीडिया मार्केटिंग क्या है ? Social Media Marketing kya hai ?

Social Media Marketing सोशल मीडिया मार्केटिंग या सोशल मीडिया (Social Media ) आपने इस नाम को कभी न कभी सुना ही होगा और कही न कही इसका प्रयोग भी किया ही होगा। सोशल मीडिया इंटरनेट का एक ऐसा हिसा है यदि आप सोशल मीडिया को कुछ देर के लिए भुला दे तो आपको इंटरनेट को भी कुछ ही समय में भूल ही जाना होगा

इसकी मुख्य बजह है सोशल मीडिया का बहुत बड़ा होना उसका लोगो का बहुत जयादा प्रयोग करना यदि आप अपने आप को ध्यान से देखे और समझे तो आपको खुद पता चल जायेगा की जब आप खुद इंटरनेट प्रयोग करते हैं तो आप कितना सोशल मीडिया का प्रयोग करते हैं।

यदि आप backlinko वेबसाइट की इस रिपोर्ट को देखे तो उन्होंने बताया है की दुनिया की आधे से जयादा 480 करोड़ लोग सोशल मीडिया का प्रयोग करते हैं।

Social Media marketing kya hai in Hindi

Social Media Marketing (SMM) क्या है – What is SMM ?

सोशल मीडिया मार्केटिंग का अर्थ क्या है ?

सोशल मीडिया का मतलब होता है लोगो का भिन्न भिन्न तरीके से आपस में एक नए माद्यम से सामाजिक रूप से जुड़ना और लोगो के बिचारो को उनके साथ बांटे और लोग एक दूसरे से सिख सक।

जब आप इसी तरीके का प्रयोग अपने या अपने बिज़नेस को लोगो तक पहुंचाने के लिए करते हैं उसे सोशल मीडिया मार्केटिंग कहते हैं इसमें आप अपने बिज़नेस के किसी एक चीज़ को धयान में रख कर सोशल मीडिया में काम करते हैं

जैसे की आपको अपने बिज़नेस की जानकारी लोगो को देनी है या आपको किसी चीज़ को उन्हें बेचना है या आपको अपने ग्राहक के बारे में और जानना है।

इस तरह से आपको पता चलता है की आप सोशल मीडिया के द्वारा लोगो तक कैसे पहुंच सकते। सोशल मीडिया के द्वारा आप हर प्रकार के लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं क्युकी सोशल मीडिया में आपको हर प्रकार के लोग मिल जायेगे ताकि आप लोगो की जरुरत को और उनकी नयी जरुरत को अच्छे से समझ सके।

सोशल मीडिया मार्केटिंग में आपको या तो आपको अपने बारे में या तो फिर अपने ब्रांड के बारे में बताना होता है इसकी मदत से आप अपने आप को या तो अपने ब्रांड को लोगो के बीच प्रस्तुत करते हैं उनके साथ बात चित करते हैं उनकी पसंद नापसंद को समजह्ते हैं

आप समजह्ते हैं की आपको किस तरह से अपने ब्रांड को अपने प्रोडक्ट को लोगो के बीच लाना है ताकि आप उससे अच्छी सेल्स ला सके सोशल मीडिया एक बहुत ही ताकतवर हथियार है जिससे आप बड़ी आसानी से अपने बिज़नेस लक्ष्य को पा सकोगे।

सोशल मीडिया मार्केटिंग में आप दो तरीको का प्रयोग कर सकते हो ताकि इस्सके आपकी और आपके बिज़नेस का विकास अच्छे से हो सके ये दो तरीके हैं organic सोशल मीडिया मार्केटिंग और दूसरा है paid सोशल मीडिया मार्केटिंग और इसके बारे में हम बाद में जयादा जानकारी प्राप्त करेंगे।

सोशल मीडिया कंटेंट से चलने वाला प्लेटफार्म है इसमे आपको कंटेंट बनाना ही पड़ेगा ताकि आप लोगो से कनेक्ट कर सके और लोगो बता सके इसे आप एक ऐसा तरीका भी कहे सकते हैं

जिसमे आपको आपने आप को या अपने ब्रांड को बयक्त करने का मौका मिलता है और आप अपने विचार सिर्फ 4 – 5 लोगो को नहीं वल्कि पुरे विश्व को बता रहे होते और और अलग अलग जगह से आपके बारे में लोगो को पता चलता है की आप कोंन हैं या आपके बिज़नेस के बारे में पता चलता है की आप क्या बेचते हो जिससे आपके लिए पुरे दुनिया के रास्ते बिज़नेस के लिए खुल जाता है l

सोशल मीडिया मार्केटिंग एक खास तरह की मार्केटिंग है जिसमे आपको इसमें लोगो तक पहुंचे के बहुत सारे तरीके मिल जायेगे आप अपने सोशल मीडिया फॉलोवर को उनकी जगह उनकी पसंद वो कहा पर रहते हैं इन जानकारियों का प्रयोग कर के अपने प्रोडक्ट को बेचते हैं या फिर आप अपनी एक ब्रांड इमेज बनाते हैं।


Social Media Marketing Kyun kare

आपके मन में भी ये सवाल जरूर आया होगा आखिर हम लोग सोशल मीडिया और सोशल मीडिया मार्केटिंग की बात क्यों कर रहे हैं और इसका उतर बिलकुल ही सीधा है जंहा पर लोग होंगे बही पर ब्रांड और विज्ञापनदाता भी होंगे और ढेर सारा पैसा भी और इन सब को जोड़ कर सोशल मीडिया मार्केटिंग की जरुरत होगी जिसके अंदर लोगो की पसंद के हिसाब से काम होता है।

सोशल मीडिया मार्केटिंग से लोगो को जो इससे जुड़े हैं और व्यवसाय जो सोशल मीडिया से जुड़े हैं दोनों को फायदा होता है इससे लोगो की जरुरत पूरी होती है और व्यवसाय अपना व्यापर चला सकते है और साथ ही इसका ज्ञान रखने वाले को नई नोकरियो का काम भी मिलेगा।


सोशल मीडिया मार्केटिंग कैसे करे(Social Media Marketing kaise kare)

सोशल मीडिया मार्केटिंग करने के लिए आपको ये तेह करना होगा की आप इसे क्यों कर रहे हो आप अपने ब्रांड की ऑनलाइन स्थापना करना चाहते हो आप किसी विशेष विषय पर बात करना चाहते हो और उस जानकारी को लोगो तक पहुंचा रहे हो और खुद को उस जानकारी का विशेषयज्ञ बताना इसका लक्ष्ये हो इसे आपको तेह करना होगा और आगे बताई बातो को पूरा करना होगा।

Social Media Business Page बनाये

आपको सबसे पहले किसी एक सोशल मीडिया प्लेटफार्म के साथ जुड़ना होगा उस प्लेटफार्म पे आपको अपना एक बस्सनेस अकाउंट बनाना होगा।

Research on Competitors

आपने जब बस्सनेस अकाउंट बनाया होगा तो ये तेह कर लिया होगा की जो अकाउंट आपने बनाया है वो किस कारण से बनाया है थो उसके संबंध में आपको और जानकारी प्राप्त करनी होगी और रिसर्च करना होगा की आपको किस प्रकार की पोस्ट सोशल मीडिया पे करनी है आपको ये तेह करना है की आप जो भी पोस्ट कर वो किसी एक तरह के तरीके को अपनाता हो ताकि लोगो को आपके ब्रांड आपके बारे में सही से पता चल सके।

आपको अपने प्रतिसपर्धियो को अच्छे से जांचना होगा और परखना होगा की वो किस तरह से अपना कंटेंट बना रहे हैं आपको उनसे सीखना होगा की वो कब कब और कितनी बार सोशल मीडिया पे पोस्ट करते हैं और कैसे वो नए कंटेंट के बारे में सर्च करते हाँ आपको ये जानना होगा की आप कैसे उनसे वेहतर कंटेंट पोस्ट कर सकते हैं।

कंटेंट को बनाने की तैयारी (Content Planning)

जब आप ये सभ तरह से जाँच परख लगे तो आप कंटेंट वनाना सुरु कर लगे परन्तु यदि आप अपने कंटेंट को अच्छी तरह से योजना बना कर बनायेगे तो आपको बहुत जयादा फायदा होगा क्युकी आपका ध्यान सिर्फ एक तरफ होगा और कंटेंट जल्दी बनेगा इससे आप एक ऐसा तंत्र तैयार कर लेगा जो आने वाले समय में आपको फायदा देगा।

इसे करने के लिए आप कंटेंट कैलेंडर का प्रयोग कर सकते हैं जिस्मे आने वाले सभी कंटेंट की सूचि होगी और आपको ये पता होगा की आपको अब आगे क्या पोस्ट करना होगा।

आप जब किसी पोस्ट को लिखते हैं उस दौरान आप कुछ रिसर्च भी करते हैं यदि वो विषय किसी ऐसी बात को ले कर है जो को हाल ही में चर्चा में है या वो अभी जयादा सर्च किया जाने वाला है तो उससे जुड़े टैग्स को जरूर प्रयोग करना चाहिए ताकि आपकी पोस्ट भी उस चर्चा का हिंसा बन सके और जायदा से ज्यादा लोग उसे पढ़ सके।

इसके साथ यदि आप कोई ऐसी पोस्ट लिख रहे हाँ या फिर सोशल मीडिया पे बता रहे हैं उसमे आओ एक खास तरह की फोटो या एक बहुत ही छोटी वीडियो आप पोस्ट कर सकते हैं इन्हे इन्फोग्राफिक कहा जाता है।

इन्फोग्राफिक की खास बात ये होती है की इसे लोग बड़ी आसानी सा समज़ह लेते हैं और और लोगो के साथ शेयर करते और अपने विचार साझा करते हैं।

क्रियाशील बने रहे (Be consistent )

`सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफार्म है जिसमे आपको क्रियाशील बने रहना पड़ता है ताकि आपको इसका भरपूर फायदा हो सके यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपका अकाउंट एक प्रकार से डेड घोषित कर दिया जायेगा और उस पर फिर से काम करना बहुत मुश्किल हो जायेगा। इसी लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पे आपको क्रियाशील रहना चाहिए।


सोशल मीडिया मार्केटिंग के आवश्यक कदम (Essential Steps of SMM)

आपको अब तक पता लग ही गया होगा की सोशल मीडिया एक कंटेंट से चलने वाला प्लेटफार्म है चाहे आपको इससे पैसे देके करना पड़े या फिर आप इसे फ्री अपने कंटेंट के दम पर पूरा करे इसमें आपको कंटेंट बनाना ही पड़ेगा।

बड़े उद्देश्य पर ध्यान दें (Focus on big objective)

जब आप सोशल मीडिया पर काम कर रहे होते हैं तो आपको अपने उदेश्य का ध्यान रखना है आपको ये तेह करना है की सोशल मीडिया का प्रयोग अपने लिए या अपने बिज़नेस के लिए क्यों कर रहे हो और आपको उससे क्या फायदा होगा ।

जब आपको अपना उद्देश्य का पता चल जायेगा तो आपको अपने कंटेंट को इस तरह से बनाना होगा की आपका वो लक्ष्य पूरा हो जाये ।

अपने दर्शकों को ध्यान से सुनें (Hear your audience carefully)

जब आप सोशल मीडिया पे काम कर रहे होते हैं तो आपको लोगो की जरूरतों के ऊपर ध्यान देना होता है आपको नयी नयी चीजे करनी पड़ती हैं जो आपके साथ आपके सोशल मीडिया की बढ़ोतरी के लिए जरुरी होता है इससे अप्पको दो फायदे होंगे एक ये की जो लोग आपके साथ जुड़े हैं वो आपके साथ जुड़े रहेंगे साथ ही इससे आप और लोगो की भी आपने साथ जोड़ेंगे

दूसरा ये की आपको अपने लोगो से जुडी नयी जरूरतों का पता कर पाएंगे ताकि आप उस जानकारी का प्रयोग अच्छे से कर सके।

धैर्य रखें और कंपाउंडिंग की प्रतीक्षा करें Have patience and wait for compounding

जब आप ऑनलाइन काम कर रहे हो तो आपके अंदर धैर्य होना बहुत जरुरी होता है इसका कारण यह है की आप ऑनलाइन काम कर रहे होते हैं तो एक एक करके कंटेंट पोस्ट कर रहे होते हैं और उसका फायदा आने में थोड़ा समय लगता है।

जब आप अपने बात लोगो तक पहुंचना चाहते हो तो आपने आपको सामने रखने के बाद ये जरुरी होता है की सामने बाले लोगो जो आपको देख रहे हैं वो आपसे जुड़ पाए और उसमे समय लगता ताकि लोग आपको आपके बारे में जाएं पाए और एक जुड़ाव महसूस कर पाए।

आपने चक्रवृद्धि ब्याज बचपन में पढ़ा ही होगा जिसमे आपका मूल धन बार बार बदलता रहता है और बयाज के ऊपर फिर से बयाज लगता है इसे कंपाउंडिंग कहा जाता है जिसमे आपको बिना कुछ किये कसी एक तरीके के ऊपर विश्वाश करके दाव लगाना पड़ता है और ये दाव सोशल मीडिया मार्केटिंग में बखूबी काम आता है।

सोशल मीडिया मार्केटिंग में आप आपने समय का निवेश करते हैं और उसे समय का प्रयोग आप कंटेंट बनाने में करते हैं और समय के साथ जब आपके पास अच्छा खासा कंटेंट होता है उसे लोग ज्यादा अच्छे से समझ पाते हैं लोग आपको एक ब्रांड के रूप में देखना सुरु कर देते हैं और आज कल जब से सब कुछ इंटरनेट की मदत से हो रहा होता है तो ये और जल्दी और आसान हो जाता है।

गुणवत्ता पर ध्यान दें और लोगों को मूल्य दें (Focus on quality and give value to people)

जब आप सोशल मीडिया वेबसाइट पे कुछ भी पोस्ट करते हैं तो आपको उस पोस्ट की गुणवक्ता का विशेष ध्यान रखना होता है क्युकी वो पोस्ट वो कंटेंट ही ये तेह करेगा की लोग आपके बारे में आपके ब्रांड के बारे में क्या समज़ते हैं वो आपके कंटेंट से क्या निष्कर्ष निकालते हैं

जब आप लोगो के बारे में सोचते हो उनकी जरूत के हिसाब से कंटेंट बनाते हो और उन ग्राहकों को लोगो को जो आपसे आके ब्रांड से जुड़े हुआ हैं उन्हें आप कुछ जरुरत की जानकारिया देते हो तो उससे आपका ब्रांड बनता आपका लोगो के बिच नाम होता है जिससे आपका बिज़नेस आगे बढ़ता है।

लोगों के साथ बातचीत करें और उन्हें महत्व दें (Interact with people and value them)

जब आप सोशल मीडिया मार्केटिंग कर रहे होते हैं तो आपको लोगो के साथ बात करनी पड़ती है इस आप लोगो के साथ व्यक्तिगत रूप से जुड़ पाते हैं और जिस कारण से आप आपके ब्रांड की पहचान व्यक्तिगत रूप से ban जाती और आप अपने बस्सनेस को एक और तरह की बुलंदी पे ले जाते हैं इससे हम्म यदि उधारण के साथ समझे तो कोका कोला एक ऐसा नाम है जिसे सुनते ही आपको उसे होने वाले एहसाह उसके द्वारा बेचा जाने वाला सामान एकदम से आपके मन में आ गया इसे व्यक्तिगत स्तर की मार्कटिंग कहते हैं।


सोशल मीडिया विज्ञापन(Social media Advertisement)

जब आप सोशल मीडिया का इस्तेमाल अपने ब्रांड या किसी सामान के प्रमोशन के लिए इस्तेमाल करते हैं जिस्मे आपको पैसे खर्च करना पड़ते हैं इसे सोशल मीडिया अड्वर्टिसमेंट कहते हैं।

बिज्ञापन जिनकी बजह से जायदा लोगो तक पहुंचा जाता है।
ये वो ऐड होती है जिसमे आप अपनी बात को जायदा से जयादा लोगो तक पहुंचते हैं। इसमें आप जयादा से जायदा लोगो को अपनी पोस्ट दिखा सकते हो और यही इसका काम होता है।

विज्ञापन जिसमे आप जानकारी इकठा करते हो।
ये वो ऐड होती है जिसमे आप इस लिए चलते हो ताकि लोग आपके साथ उनकी जानकारी जैसे की फ़ोन नंबर , नाम ये ईमेल आदि हो सकता है।

विज्ञापन जिसमे आप अपना सामान लोगो को सीधा बेचते हो।
इस तरह की ऐड से आप लोगो को अपना सामान बेचते हो।

विज्ञापन जिसमे आप लोगो से जयादा लाइक्स शेयर या फॉलो करवाते हो।
इन विज्ञानपन को इंगेजमेंट एड्स भी कहा जाता ही क्युकी इससे पता चलता है की आप और आपके ग्राहक एक दूसरे से कितने जुड़े हाँ और वो आपको कितना सहजते हैं।

इसके इलवा भी कई तरह की ऐड होती जिसे हम किसी और पोस्ट में चर्चा करंगे।


सोशल मीडिया मार्केटिंग के भिन्न भिन्न फायदे – Benefits of Social Media Marketing

ब्रांड के प्रति जागरूकता और ब्रांड पर बहरोसा

जब आप सोशल मीडिया पे काम कर रहे होते हैं तब आप आसनी से लोगो के बिच काम कर रहे होते हैं यादो आप एक तरीके से काम कर रहे होते हैं आपको लोग याद रखना सुरु कर देते हैं हाँ और इससे आपको या आपके ब्रांड की अच्छी ब्रांडिंग हो जाती है और ये पहचान बड़े काम की चीज़ होती है क्युकी लोग आपके बारे में अच्छे से जानते हैं वो आपके विषय में जानते हैं की आप क्या कर सकते हैं ये आपकी कम्पनी क्या काम करती है और वो कैसे आपकी मदत कर सकती है इससे लोगो का आप पर बिश्वाश और बढ़ जाता है।

आपको परिणाम अन्य प्लेटफार्मों की तुलना जल्दी मिलता है

सोशल मीडिया मार्केटिंग में आपको जल्दी रिजल्ट मिलता है इसकी मुख्य बजह है लोग जो इसे प्रयोग करते हैं वो सोशल मीडिया प्लेटफार्म पे देखते और उस कंटेंट के साथ बड़ी आसानी से जुड़ सकते हैं सोशल मीडिया में जो कंटेंट बनाते हैं उन्हें अपने हिसाब से किसी भी बिषये पे कंटेंट बनाने का पूरा मौका मिलता है और हर प्रकार का कंटेंट इन प्लेटफार्म पे बड़ी आसानी से मिल जाता है इसके साथ साथ इन्फुलेंसर मार्केटिंग सोशल मीडिया मार्केटिंग का एक बहुत बड़ा और असरदार तरीका है अपनी चीज़ो या कंपनी को को लोगो तक पहुंचाया जा सकता है।

वेबसाइट पर ट्रैफिक और ज्यादा बिक्री

सोशल मीडिया मार्केटिंग में कम खर्चा होता है।

सोशल मीडिया में जो सबसे जयादा खर्चा करवाता है वो कंटेंट बनाने का होता है क्युकी इस प्लॅटफॉम में आपको निरंतर पोस्ट बनाते रहना पड़ता है और जब आप ये काम अपने खुद के लिए या कोई ब्रांड करता है तो आपको खर्चा करना पड़ता है इसके इलावा इसमें एक और बड़ा खर्चा होता हो अपने ब्रांड की या प्लेटफॉर्म की एक रुपरेखा निर्धारित करना ऐसा करना इस लिए जरुरी होता है ताकि आप जो कंटेंट बनाये उसका कुछ फायदा हो सके

इन खर्चो के इलावा SMM में किसी भी प्रकार का कोई खर्चा प्रारंभिक रूप से नहीं होता और इस खर्चे को कोई नया ब्रांड या बय्क्ति शुन्य भी कर सकता है जब वो कंटेंट खुद ही बनाए और ये करना आसान भी होता है।
इसके होने वाले फायदे बहुत हो सकते हैं इसकी कोई सिमा नहीं है यदि आपका कंटेंट सही और अच्छा बना है तो हो सकता की आपको कुछ महीनो में ही फायदा मिल जाये ये सभ आपके कंटेंट पे निर्भर करता है।


सोशल मीडिया मार्केटिंग के क्या –Disadvantages of Social Media Marketing

सोशल मीडिया मार्केटिंग के लिए सबसे अच्छा प्लेटफॉर्म कौनसा है

Social Media Marketing Tools in Hindi

मैं सोशल मीडिया मार्केटिंग कैसे शुरू करूं?

सोशल मीडिया मार्केटिंग को शुरू करने के लिए आपको कंटेंट बनाना शुरू करना होगा जिसके लिए आपको अपनी जरुरत के अनुसार किसी एक सोशल मीडिया प्लेटफार्म को चुनना पड़ी और उसपे कंटेंट बना कर उसपे काम करना होगा।

क्या सोशल मीडिया मार्केटिंग प्रभावी है?

इंटरनेट मार्केटिंग के इस डिजिटल युग में सोशल मीडिया मार्केटिंग बहुत ही प्रभावशाली तरीका है इससे आप अपने बिज़नेस या आप खुद को उसके जरिये लोगो को बता पाएंगे जिसकी बझा से आपको और जायदा बिज़नेस करने का या प्रसिद्ध होने का मौका मिलेगा।

क्या सोशल मीडिया बिजनेस के लिए अच्छा है?

इस डिजिटल युग में सोशल मीडिया से चलने वाला कोई बिज़नेस नहीं हो सकता क्युकी लोग इससे फ्री में भी प्रयोग कर सकते हैं और इसकी पहुंच हर बर्ग के लोगो तक है और इसी कारन से आप किसी भी प्रकार का सामान और सेवा सोशल मीडिया के द्वारा लोगो तक पहुंचा सकते हैं।
इन सेवाओं में फ्रीलांसिंग ,कंटेंट क्रेशन ,वीडियो एडिटिंग जैसे काम कर सकते हैं और इस्सके साथ साथ आप अपना ऑनलाइन स्टोर भी प्रमोट कर सकते हैं।

मार्केटिंग में सोशल मीडिया क्या है?

मार्केटिंग में सोशल मीडिया एक औज़ार की तरह काम करता है इससे आप अपने बिज़नेस के या किस ख़ास तरह की सोच को लोगो तक पहुंचाने का काम करता है जिससे आप अपने बिज़नेस को एक नयी उचाई तक पहुंचाने में मदत मिलेग।

सोशल मीडिया मार्केटिंग से क्या आशय है?

सोशल मीडिया मार्केटिंग से आशय है मार्केटिंग का एक ऐसा तरीका जिसमे आपको कंटेंट बना कर लोगो को आपने साथ जोड़ सके इसकी कोई भी बजह हो सकती है आपको सिर्फ लोगो की मदत करनी है लोगो को आपने अपनी कोई सेवा देनी है आपने उन्हें कुछ सामान बेचना है बजहा कोई भी हो सोशल मीडिया मार्कटिंग से आप बहुत कुछ कर सकते है जब आप उनके साथ जुड़ते हैं।

सोशल मीडिया का मतलब क्या होता है?

सोशल मीडिया का मतलब होता है एक ऐसा तरीका लोगो तक पहुंचने का जिसमे आप भिन्न भिन्न प्रकार के मीडिया का प्रयोग करते हैं और आपने बस्सनेस को प्रोमोट कर सकते हैं।

सोशल मीडिया पर मार्केटिंग कैसे करें?

सोशल मीडिया पर मार्केटिंग करने के लिए आपको किसी एक मीडिया प्लेटफार्म को चुनना चाहिए और अपनी जरुरत के अनुसार आपको अपनी परियोजना बनानी चाहिए और आपको पैसे देके या फ्री में कंटेंट बना के अपना काम शुरू करना चाहिए।

सोशल नेटवर्क का सबसे प्रचलित सोशल मीडिया मार्केटिंग का माध्यम कौन सा है?

किसी एक प्रचलित प्लेटफार्म को सोशल मीडिया मार्केटिंग के लिए चुनना बड़ा ही कठिन काम होता है क्युकी हर किसी परेशानी और जरुरत का के जबाब नहीं हो सकता ये जरुरत के अनुसार बदलता रहता है और इस्सके साथ साथ किसी एक प्लेटफार्म को चुनना भी बुद्धिमता नहीं है आपको कम से कम 2 या 3 प्लेटफार्म को चुनना चाहिए।
ये प्लेटफार्म Twitter ,Facebook ,pinterest आदि हो सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग में सोशल मीडिया की क्या भूमिका है?

डिजिटल मार्केटिंग में सोशल मीडिया की अहम भूमिका है इसकी मुख्या बजह है लोगो का सोशल मीडिया के साथ बहुत जयादा मात्रा में जुड़ना और जहा पे लोग होते हैं वही पे मार्कटिंग जैसे बिषये भी होते हैं। सोशल मीडिया लोगो तक पहुंचे का एक बहुत ही एहम तरीका है और इसी कारण से ये डिजिटल मार्कटिंग का एक अभिन अंग है।

क्या सोशल मीडिया मार्केटिंग इफ़ेक्टिव होते हैं आज के दौर में?

आज के इस दौर में सोशल मीडिया मार्केटिंग सबसे जयादा जरुरी और इफेक्टिव है आज के इस युग में जहा हर कोई किसी न किसी से प्रतिस्पादा कर रहा है तो सोशल मीडिया पे बढ़ पाना तो कठिन काम है परन्तु यदि अपने ऐसा कर दिया तो आप अपनी महत्वपूर्ण जंग जित्त जाओगे।

सोशल मीडिया के क्या फायदे हैं?

सोशल मीडिया के बहुत फायदे है ये कुछ इस प्रकार है
1. ब्रांड के प्रति जागरूकता और ब्रांड पर बहरोस
2. आपको परिणाम अन्य प्लेटफार्मों की तुलना जल्दी मिलता है
3. वेबसाइट पर ट्रैफिक और ज्यादा बिक्री
4. सोशल मीडिया मार्केटिंग में कम खर्चा होता है

Leave a Comment